Custom Search

Saturday, June 7, 2008

ज -- जहाज





कहता है, जय हिंद बोलो,
बोलो, भारत माँ की जय,
जय बोलो भगत, आजाद की,
नेताजी व गाँधीजी की जय,
जय बोलो, शास्त्री, पटेल की,
१५ अगस्त, २६ जनवरी की जय,
जय बोलो तुम शिवा, प्रताप की,
बोलो, माँ भारती की जय,
जय हो सदा भारत वीरों की,
जय हो, हो जय, जय, जय
_________________









से जहाज, पढ़ लो आज,
कल , झरने की बारी है,
बनना है अगर ज्ञानवान तो,
पढ़ना रखना जारी है।
_____________
प्रभाकर पाण्डेय
__________________
____________________

2 comments:

mahendra mishra said...

Bhai sahib aap likhana jaree rakhe ham padhate rahenge . j jahaj ka padhakar bahut achcha laga , dhanyawaad

mahendra mishra said...

बस आप लिखते रहे हम पढ़ते रहेंगे . ज जहाज का पढ़कर अच्छा लगा आनंद आ गया बचपना आँखों के सामने झूलने लगा है . धन्यवाद

 
www.blogvani.com चिट्ठाजगत