Custom Search

Monday, March 10, 2008

अः











अः कहता है आह न भरना,
परिश्रम से तुम कभी न डरना,
मन लगाकर करना सब काम,
तुम पाओगे उचित इनाम।

-प्रभाकर पाण्डेय

1 comment:

 
www.blogvani.com चिट्ठाजगत